रूस ने दिया पाकिस्तान को झटका, कहा- भारत ने 370 पर संवैधानिक फैसला लिया

अनुच्छेद 370

जम्मू-कश्मीर पर भारत के फैसले का रूस ने समर्थन किया है. रूस के विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत ने जम्मू और कश्मीर को दो भागों में विभाजित और केंद्र शासित प्रदेश बनाने का फैसला संविधान के अनुसार ही लिया है. मॉस्को को उम्मीद है कि जम्मू-कश्मीर राज्य पर दिल्ली द्वारा लिए गए फैसले पर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव में वृद्धि नहीं होने देंगे.

रूस के विदेश मंत्रालय की कहा गया, हमें उम्मीद है कि भारत-पाकिस्तान के मतभेदों को द्विपक्षीय आधार पर राजनीतिक और राजनयिक तरीकों से हल किया जाएगा. भारत और पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में किए गए बदलाव के बाद किसी तरह के तनाव को बढ़ावा नहीं देंगे.

वहीं चीन ने भी भारत और पाकिस्तान से अपने विवादों को सुलझाने के लिए बातचीत करने का आग्रह किया. बता दें कि चीन की यह प्रतिक्रिया पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के चीन से परामर्श के लिए पहुंचने के बाद शुक्रवार को आई.

पाकिस्तान को झटका

पाकिस्तान के विदेश मंत्री कुरैशी, भारत की ओर से जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को रद्द किए जाने के मद्देनजर अगला कदम लेने के लिए चीन से राय लेने पहुंचे हैं. चीन विदेश मंत्रालय ने कहा कि हम पाकिस्तान और भारत से बातचीत के जरिए विवाद को सुलझाने व संयुक्त रूप से शांति एवं स्थिरता को कायम रखने का आह्वान करते हैं.

चीन ने अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा वापस लेने के फैसले का प्रत्यक्ष रूप से जिक्र नहीं करते हुए कहा, प्राथमिकता यह है कि प्रासंगिक पक्ष को चाहिए कि वह यथास्थिति को एकतरफा बदलने से बाज आए और तनाव न बढ़ाए.

रविवार को ईद समारोह से पहले शांति और शांति बनाए रखने के लिए जम्मू और कश्मीर (जम्मू-कश्मीर) में और अधिक सैनिकों की तैनाती की संभावना है। धारा 370 को निरस्त करने के बाद पहला शुक्रवार शांतिपूर्वक उत्तर कश्मीर के सोपोर में पथराव की मामूली घटनाओं को रोक दिया गया। घाटी के सभी स्कूलों और कॉलेजों के साथ लेह और जम्मू से धारा 144 हटा ली गई है, शनिवार को फिर से खुलने की उम्मीद है। जबकि धारा 370 के खत्म होने के बाद से घाटी में अप्रिय घटनाओं की शायद ही कोई रिपोर्ट थी, पाकिस्तान शुक्रवार को फिर से आक्रामक हो गया। समझौता एक्सप्रेस सेवा बाधित होने के बाद, पाकिस्तान ने जोधपुर की भगत की कोठी स्टेशन से कराची के बीच चलने वाली ट्रेन थार एक्सप्रेस को बंद करने की घोषणा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *